भोपाल-इंदौर में आज रात से नाइट कर्फ्यू

देश में कोरोना संक्रमण के केस निरंतर बढ़ रहे हैं। महाराष्ट्र, गुजरात, मप्र के बाद अब पंजाब में अपने पैर पसार रहा है। तेजी से बढ़ रहे मामलों की वजह से मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल और इंदौर में आज से (बुधवार) से नाइट कर्फ्यू लगाने का आदेश जारी किया गया है। मप्र में पिछले कुछ दिनों से रोजाना औसतन 700 से 900 मामले सामने आ रहे हैं।

मध्‍य प्रदेश की राजधानी भोपाल और इंदौर में नाइट कर्फ्यू रात 10 बजे से लेकर सुबह 6 बजे रहेगा। इसके अलावा प्रदेश के 8 शहरों में रात 10 बजे के बाद सभी बाजार और दुकानें बंद रखी जाएंगी. कोरोना संक्रमण बढ़ने के कारण सरकार ने एहतियात के तौर पर यह कदम उठाया है।

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि मध्यप्रदेश की इस समय देश में पाए जा रहे पॉजिटिव प्रकरणों में 2.6 की हिस्सेदारी है। बड़े राज्यों में महाराष्ट्र में सर्वाधिक 60 प्रतिशत, केरल में 8.5 प्रतिशत, कर्नाटक में 3.5 प्रतिशत, तमिलनाडु और गुजरात में 03-03 प्रतिशत कोरोना पॉजिटिव रोगी हैं। बैठक में बताया गया कि प्रदेश के इंदौर, भोपाल में गत सप्ताह तक 400 के आस-पास प्रकरण सामने आते थे। इस सप्ताह इनकी संख्या दोगुनी हो गई है। प्रदेश का पॉजिटिविटी रेट 4.3 प्रतिशत है। भोपाल और इंदौर में पॉजिटिविटी रेट 9 प्रतिशत तक पहुँच गया है। इंदौर में आज 233 और भोपाल में 196 प्रकरण सामने आए हैं। प्रदेश के करीब 10 जिलों में पॉजिटिविटी रेट बढ़ा है। इन जिलों में जुलूस, मेले आदि नहीं हो सकेंगे। ओपन स्पेस में होने वाले कार्यक्रम भी नहीं होंगे। बड़े आयोजनों पर रोक रहेगी। प्रदेश में अधिक प्रकरण आने वाले जिलों को तीन श्रेणियों में विभाजित करें तो 50 से अधिक प्रकरण इंदौर, भोपाल में आ रहे हैं। 20 से 50 प्रकरण के मध्य वाले जिलों में जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, रतलाम, बुरहानपुर और छिंदवाड़ा शामिल हैं। जिन जिलों में 20 से कम प्रकरण आ रहे हैं, उनमें खण्डवा, सागर, शाजापुर, बैतूल, सीधी और खरगोन शामिल हैं।