देश की कलाई में हो,देश में निर्मित राखी, कैट चलाएगा जन जागरण अभियान

भोपाल। चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के अपने राष्ट्रीय अभियान “भारतीय सामान- हमारा अभिमान” के अंतर्गत देश के व्यापारियों की संस्था कंफेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) निरंतर आगे बढ़ रहा है।

कैट के सचिव विवेक साहू ने बताया कि कैट रक्षाबंधन के पावन पर्व पर जन जागरण अभियान चलाकर अपने व्यापारियों से निवेदन करेंगे कि वह चाइनीस राखियो का बहिष्कार कर देश में बनी राखियों का विक्रय करें एवं सामाजिक संगठनों एवं स्वयंसेवी संगठनों के माध्यम से सभी बहनों से आग्रह करेंगे कि वह इस बार अपने भाइयों की कलाई पर भारतीय राखी ही बांधे यही गलवान घाटी में शहीद भाइयों को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.सी भर्तियां एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि 3 अगस्त से नवंबर तक निरंतर भारतीय त्यौहार शुरू हो रहे हैं इन त्योहारों में चीन भारत में अरबों रुपए का सामान बेचता आया है परंतु इस बार चीन द्वारा गलवान घाटी मैं घुसपैठ की कोशिश की घटना के बाद माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी जी की सराहनीय पहल “लोकल को वोकल” के तहत भारतीय सामान की ही खरीदारी कर देश के हर नागरिक को आत्मनिर्भर बनाने का संकल्प ले।

कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राधेश्याम महेश्वरी एवं प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र जैन ने कहा कि प्रदेश में चीनी सामान का बहिष्कार निरंतर जारी रहेगा एवं प्रदेश के अधिक से अधिक व्यापारी आत्मनिर्भर बने इसका प्रयास कैट संगठन द्वारा किया जाएगा।