कैट ने ZOOM ऐप का किया बहिष्कार

भोपाल। चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के अपने राष्ट्रीय अभियान के अंतर्गत कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स ( कैट ) निरंतर आगे बढ़ रहा है। कैट के प्रवक्ता एवं सचिव विवेक साहू ने बताया कि कैट ने एक बड़ा फैसला लेते हुए देश भर के व्यापारियों के साथ संवाद स्थापित करने हेतु अब तक उपयोग में लायी जा रही जूम एप्लिकेशन का बहिष्कार कर दिया है और फिलहाल भारतीय जिओमीट अपनाना शुरू कर दिया है ।

कैट के सचिव विवेक साहू ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि देश भर के व्यापारियों और सभी राज्यों में फैले व्यापारी संगठनों को यह सलाह दी है की वो अपने संवाद मंच के रूप में अब जूम का उपयोग न करें । हालाकिं कैट की टेक्नोलॉजी टीम अन्य उपलब्ध एप्लीकेशनों का भी आंकलन कर रही है । कैट ने यह निर्णय जूम के बारे में देश भर के व्यापारी नेताओं से प्राप्त आपत्तियों एवं सुझावों को ध्यान में रख कर लिया है, कैट का यह कदम उसके बहुआयामी अभियान ‘‘भारतीय सामान-हमारा अभिमान‘‘ कप सशक्त बनाने के लिए लिया गया है !

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.सी.भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने बताया की कैट का यह निर्णय सभी पहलुओं को ध्यान में रख कर लिया गया है! जूम हालाकिं एक अमरीकी एप्लिकेशन है किन्तु प्राप्त जानकारी के अनुसार जूम का काफी डाटा चीन के मार्फत जाता है और जूम के कुछ सर्वर चीन में भी हैं जिसकी वजह से डाटा के लीक होने का खतरा बना रहता है और इस आशंका को भी खारिज नहीं किया जाता की इसका दुरूपयोग भारत के हितों के खिलाफ भी सो सकता है !

भरतिया एवं खंडेलवाल ने कहा की वर्तमान परिस्थितियों में देश के व्यापारी एवं अन्य वर्गों के लोग चीन के खिलाफ एक आर्थिक लड़ाई छेड़े हुए हैं और इस लड़ाई में डाटा का बड़ा महत्व है, इस दृष्टि से हम हर उस स्रोत को समाप्त करना चाहते हैं जिसके जरिये भारत का डाटा देश में रहने की बजाय देश के बाहर जाने की सम्भावना रखता है ! पब्लिक जानकारी में अनेक ऐसे तथ्य सामने आएं हैं जिसमें जूम का सुरक्षा के लिए खतरा होने के पर्यापत संकेत हैं! विगत समय में भारत सरकार ने भी एक पत्र जारी कर अधिकारियों को जूम का उपयोग न करने की सलाह दी है !