सी.एम. योगी पहुंचे अयोध्या, प्रभु श्रीराम लला के दर्शन कर बोले 500 साल बाद आया है भूमि पूजन का सबसे अच्छा मुहूर्त

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज शनिवार को अयोध्या पहुंचे। मुख्यमंत्री ने पहले हनुमानगढ़ी में दर्शन किया। अयोध्या में अफसरों के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भूमि पूजन और प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर समीक्षा बैठक की।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पांच अगस्त को होने वाले भूमि पूजन का मुहूर्त पांच सौ साल के प्रयासों और तमाम संघर्षों के बाद आया है। यह सबसे अच्छा मुहूर्त है इसलिए अयोध्या में एक बार फिर से दीवाली मनाएं। हमें इस अवसर को वैश्विक उत्सव का स्वरूप देना होगा। अयोध्या में एक अगस्त से ही दीपावली जैसा दृश्य दिखाई देना चाहिए। लोग अपने घरों में और संत महंत अपने मंदिरों में घी के दीपक जलाएं।

मुख्यमंत्री दोपहर करीब डेढ़ बजे अयोध्या हवाई अड्डे पहुंचे। जहां से वह सीधे श्रीराम जन्मभूमि परिसर पहुंचे और वहां रामलला के दर्शन कर उनकी आरती की। इस दौरान ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय और मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र भी मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यहां लोग अपने घरों में और संत-महंत अपने मंदिरों में घी के दीपक जलाएं। कोरोना संक्रमण के कारण सभी लोगों की उत्सव में प्रत्यक्ष भागीदारी सम्भव नहीं है, लेकिन दूरदर्शन पर भूमि पूजन का सजीव प्रसारण होगा।

श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन समारोह में शामिल होने के लिए अयोध्या आने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हनुमानगढ़ी मंदिर जाकर बजरंग बली के दर्शन-पूजन करेंगे। प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी का यह अयोध्या का पहला दौरा होगा।