कोरोना का टेस्ट हर नागरिक का अधिकार : सीएम शिवराज

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना का टेस्ट हर नागरिक का अधिकार है। जो भी टेस्ट कराना चाहेगा, उसका नि:शुल्क टेस्ट किया जाएगा। प्रदेश में 26 हजार से अधिक कोरोना मरीजों का नि:शुल्क इलाज किया जा रहा है। इनमें से 22 हजार 237 का शासकीय अस्पतालों में, 3080 का अनुबंधित अस्पतालों में तथा 1335 मरीजों का आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत सम्बद्ध अस्पतालों में नि:शुल्क इलाज हो रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में लगाए जा रहे ऑक्सीजन प्लांट शीघ्र चालू हो जाएँ तथा जहाँ सीटी स्केन मशीनें लगाई जानी है, उन्हें जल्दी लगाया जाए। जिन अस्पतालों में चिकित्सा स्टाफ की कमी है, कलेक्टर्स संविदा पर तुरंत भर्ती कर लें।

सीएम शिवराज ने कहा कि प्रदेश में कोरोना के उपरांत ब्लेक फंगस नामक रोग के कुछ मामले सामने आए हैं। इस संबंध में भारत सरकार द्वारा जारी की गई एडवाइजरी को प्रदेश के सब अस्पतालों में भिजवाया जाए तथा निर्धारित प्रोटोकॉल के अनुसार इस रोग का इलाज किया जाए।

सीएम ने आज निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना नियंत्रण कोर ग्रुप के सदस्यों से चर्चा कर जिलों में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की। बैठक में कोर ग्रुप के सदस्य, जिलों के प्रभारी मंत्री और अधिकारी उपस्थित थे।