चुनाव आयोग का बड़ा फैसला, अब इस उम्र से अधिक के लोग नहीं डाल सकेंगे वोट

कोरोना संकट को देखते हुए चुनाव आयोग ने बिहार चुनाव और अन्य उपचुनावों को लेकर एक बड़ा निर्णय लिया है। निर्वाचन आयोग ने बिहार एवं अन्य स्थानों पर होने जा रहे चुनावों में 65 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों के लिए पोस्टल बैलट सुविधा का विस्तार नहीं करने का निर्णय लिया है। हालांकि 80 साल से अधिक उम्र के दव्यिांगों एवं जरूरी सेवाओं में कार्यरत लोगों और कोरोना संक्रमितों को पोस्टल बैलेट से मताधिकार के इस्तेमाल की इजाजत दी है।

हाल ही में कोरोना संक्रमण के बीच निर्वाचन आयोग ने 65 साल की उम्र से अधिक के लोगों को पोस्टल बैलेट द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग करने की अनुमति प्रदान की गई थी। लेकिन चुनाव आयोग ने फिलहाल अपने फैसले को बदल दिया है। अब चुनाव आयोग ने अपने ताजा बयान में कहा है कि आने वाले चुनावों को ध्यान में रखते हुए जनप्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 60 (सी) के तहत नई अधिसूचना जारी की जाती है।

वहीं बताया जा रहा है कि आयोग को उपचुनाव कराए जाने की तैयारियों के लिए 35 दिनों का समय चाहिए। इस हिसाब से 10 सितंबर के पहले मप्र में उपचुनाव करवाए जाने के लिए आयोग को अगस्त के प्रथम सप्ताह में ही अधिसूचना जारी करनी होगी।