मप्र के कई जिलों में बाढ़ की स्थिति, सीएम ने बुलाई आपात बैठक

मप्र के ग्वालियर चंबल अंचल में लगातार हो रही बारिश से बाढ़ की स्थिति बन गई है। शिवपुरी में कई गांव बाढ़ की चपेट में हैं। एसडीआरएफ व एनडीआरएफ काे माेर्चा संभालना पड़ रहा है। उधर मणिखेड़ा डेम से पानी छाेड़ने के बाद दतिया का सनकुआ धाम डूब में आ गया है। हरसी नहर ओवरफ्लाे हुई ताे 60 गांवों में पानी भर चुका है। पार्वती नदी का जलस्तर बढ़ने के बाद माेहना में पुल पर पानी भर जाने के कारण आगरा-मुंबई हाइवे काे बंद कर दिया गया है। वहीं शिवपुरी में ट्रेन की पटरियां पानी में डूब गई हैं। जिसके कारण ग्वालियर-इंदाैर इंटरसिटी रात से ही शिवपुरी रेलवे स्टेशऩ पर खड़ी हुई है। कुल मिलाकर बारिश के कारण रेल यातायात व सड़क यातायात बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। शिवपुरी में सैकड़ों गांव खाली कराए गए। बचाव और राहत कार्य जारी। शिवपुरी में भारी बारिश के चलते हेलीकॉप्टर से रेस्क्यू में दिक्कत आ रही है।

शिवपुरी में पाड़रखेड़ा रेलवे स्टेशन के पास रेलवे ट्रैक पर पानी भरने के कारण रेल यातायात प्रभावित हुआ। सोमवार शाम को ग्वालियर से चली ग्वालियर-इंदौर इंटरसिटी एक्सप्रेस को पवारखेड़ा स्टेशन पर रोक दिया गया। करीब 14 घंटे तक ट्रेन पाड़रखेड़ा रेलवे स्टेशन पर खड़ी रही और उसे कैंसिल करना पड़ा। ट्रेन में सवार सैकड़ों यात्री परेशान होते रहे और घंटों बाद भी रेलवे ट्रैक पर पानी कम न होने के कारण ट्रेन को कैंसिल करना पड़ा। पाड़रखेड़ा रेलवे स्टेशन के आगे रेलवे ट्रैक पर इतना पानी भर गया कि पटरियां पूरी तरह से पानी में डूब गई। दोनों तरफ से ट्रैक पर पहाड़ों से झरने बह रहे हैं जिससे ऐसा लग रहा है कि ट्रैक नहीं बल्कि कोई नदी बह रही है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बारिश प्रभावित शिवपुरी, श्योपुर, भिंड और दतिया जिलों के प्रशासन के लगातार संपर्क में है और स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। राज्य प्रशासन के एक अधिकारी ने यहां बताया कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) के दल कार्रवाई में लगे हुए है और मुख्यमंत्री उनसे जारी बचाव अभियान के बारे में जानकारी ले रहे हैं। शिवपुरी जिले के प्रभारी मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया, स्थानीय विधायक और प्रदेश की मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया भी बचाव अभियान की निगरानी के लिए जिले में डेरा डाले हुए हैं। अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने बचाव अभियान की निगरानी तथा ग्वालियर व चंबल संभाग में बाढ़ की स्थिति की समीक्षा के लिए भोपाल में मंत्रालय में आपात बैठक बुलाई है।