गूगल अकाउंट को रखें सुरक्षित, हैक होने से हो सकते हैं काफी सारे नुकसान

डिजिटल वर्ल्ड में गूगल की अहमियत भी किसी से कम नहीं है। आसान शब्दों में कहा जाए तो गूगल अकाउंट का मतलब जीमेल से होता है। आंकड़ों के मुताबिक जीमेल पर एक बिलियन से ज्यादा एक्टिव यूजर्स हैं, जिसका इस्तेमाल हम आमतौर पर मेल भेजने, डॉक्यूमेंट भेजने और कंपनियों में सीवी भेजने के लिए करते हैं। वहीं तमाम कंपनियों से आने वाले नौकरी के ऑफर भी हमारे जीमेल पर आते हैं क्योंकि आमतौर पर लोग ऑफिशियल आईडी के तौर पर ही अपनी जीमेल आईडी का इस्तेमाल करते हैं। हालांकि आपने यह बात भी गौर की होगी कि आपको हर रोज जीमेल पर काफी सारे ई-मेल आते रहते हैं। इनमें से अधिकांश बैंक, पीआर एजेंसी और फेक मैसेज होते हैं। वहीं हमारे पास कुछ फेक मेल भी आते हैं जो कि अमूमन स्पैम होते हैं, ये हमारे लिए खतरनाक होते हैं। यानी हमारी जीमेल (गूगल अकाउंट) भी हैकर्स के निशाने पर रहता है। हम अपनी इस खबर में आपको गूगल अकाउंट को हैकर्स से सुरक्षित रखने का तरीका बता रहे हैं।

ऐसे समय में जब साइबर क्राइम के हमले तेजी से बढ़ रहे हैं तो हमारे लिए अपनी ऑनलाइन प्राइवेसी को सुरक्षित रखना काफी अहम हो जाता है। इसमें सबसे खास हमारा जीमेल अकाउंट (ई-मेल) होता है। जानिए जीमेल हैक होने से आपको कौन कौन से नुकसान हो सकते हैं….

· अगर आपने अपने गूगल अकाउंट या गूगल वॉलेट सर्विस से डेबिट या क्रेडिट कार्ड जोड़ा हुआ है तो गूगल अकाउंट हैक होने पर आर्थिक नुकसान भी हो सकता है।

· अगर आपका गूगल अकाउंट हैक होता है तो जाहिर है आपकी भी लोकेशन पता लगाई जा सकती है। ऐसा फाइंड माई डिवाइस के माध्यम से किया जा सकता है।

· लोग गूगल डैशबोर्ड का इस्तेमाल भी खूब करते हैं इसमें गूगल की सर्विस से जुड़ा डेटा स्टोर होता है। साथ ही इसमें आपकी लोकेशन हिस्ट्री से लेकर, सर्च हिस्ट्री और अन्य जानकारियां होती है। यह ये भी बता सकता है कि आपने आखिरी बार कब व्हाट्सएप, टिंडर या किसी अन्य एप का इस्तेमाल किया था।