भारत में तैयार होगा दुनिया का पहला हाईटेक स्टेडियम, बारिश में भी हो सकेगा मैच

भारत में होने वाले मैचों में अकसर बारिश खलल डालती है, भारत में अभी तक ऐसा कोई स्टेडियम नहीं है जिसमें छत हो और बारिश में भी मैच जारी रहे सकें । लेकिन अब यह समस्या दूर होने वाली है क्योंकि पंजाब क्रिकेट संघ के द्वारा चंडीगढ़ में बनाया जा रहा है दुनिया का पहला हाईटेक स्टेडियम । दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम मोटेरा में भी ये सुविधा नहीं है जिसमें बारिश के टाइम पर भी मैच का आयोजन किया जा सके ।

                 दरअसल, मुल्लांपुर अंतराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम को ग्रीन बिल्डिंग कांसेप्ट के तहत तैयार किया जा रहा है । 150 करोड़ रुपये की लागत से बना यह स्टेडियम आइएस बिंद्रा स्टेडियम से तीन गुना बड़ा होगा । दुनिया के बाकी हाईटेक स्टेडियमों के मुकाबले यह थोड़ा अलग है और विषम परिस्थितियों में भी यहां पर मैच का आयोजन करना संभव होगा ।

इस स्टेडियम में बिजली आपूर्ति के लिए सोलर सिस्टम, रेन वाटर हार्वेस्टिंग से पानी की आपूर्ति की जाएगी । इस स्टेडियम में इस्तेमाल किए गए पानी का भी दोबारा इस्तेमाल किया जा सकता है । स्टेडियम में स्पेशल ड्रेनेज सिस्टम लगाया गया है, जितनी भी बारिश हो , मैच बाधित नहीं होगा । बारिश बंद होते ही पिच आधे घंटे में खेलने के लिए तैयार होगी । दर्शक धूप और बारिश से बचे रहेंगे इसके लिए दर्शक दीर्घा के ऊपर पारदर्शी छत लगाई जा रही है ।

पंजाब क्रिकेट संघ की तरफ से बनाए जा रहे इस स्टेडियम का 90 फीसदी काम पूरा हो चुका है । स्टेडियम का निर्माण कार्य अगस्त 2020 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया था लेकिन लॉकडाउन की वजह से इसका निर्माण कार्य अब मार्च 2021 में पूरा हो जाएगा ।

अंतरराष्ट्रीय पिच क्यूरेटर दलजीत सिहं बताते है कि यह देश का ऐसा इकलौता स्टेडियम है, जिसमें सात अंतरराष्ट्रीय स्तर की पिच तैयार की गई है । भविष्य में तमाम आईपीएल और अंतरराष्ट्रीय मैच इसी स्टेडियम में होंगे, क्योंकि इसमें पार्किंग और ट्रैफिक संबंधी कोई दिक्कत नहीं होगी । यहां एक साथ 1640 गाड़ियों को पार्क किया जा सकता है ।