कमलनाथ ने रैली कर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाईं, भाजपा ने की वर्चुअल रैली

मध्यप्रदेश में 24 सीटों पर होने बाले विधानसभा उपचुनाव को लेकर तैयारियां प्रारंभ हो चुकी हैं । आज पूर्व मुख्यमंत्री और पीसीसी चीफ कमलनाथ ने धार के बदनावर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित किया लेकिन उस रैली में किसी ने भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया। कमलनाथ ने तीखे तेवर अपनाते हुए कहा कि राज्य की जनता बताएगी कि कौन बेहतर है। उन्होंने इशारों-इशारों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया पर भी तंज कसा।

कमलनाथ ने कहा, ‘मैं कोई महाराज नहीं हूं। मैं शेर नहीं हूं। मैं ‘मामा’ नहीं हूं। मैंने कभी चाय नहीं बेची। मैं कमलनाथ हूं। मध्यप्रदेश की जनता तय करेगी कि कौन बिल्ली है और कौन चूहा है।’

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तत्काल कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा है कि ‘उन्होंने (कमलनाथ ने) पूरे मध्यप्रदेश को बर्बाद कर दिया। जो उन्होंने किया राज्य उसका परिणाम भुगत रहा है। हम इसे जनता के सामने लेकर आएंगे।’

वहीं भाजपा ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए वर्चुअल रैलियों की शुरुआत कर दी है। जिससे 24 सीटों पर होने बाले उपचुनावों पर बूथ लेबेल तक पकड़ बनायी जा सके। अब देखना यह होगा कि उपचुनावों में कौन बाजी मारता है।