डाक्टर्स डे के मौके पर शिवराज सिंह ने शुरु की किल कोरोना योजना

मध्यप्रदेश में निरंतर कोरोना अपने पैर पसार रहा है इसी को देखते हुए प्रदेश मंे डाक्टर्स डे के अवसर पर किल कारोना योजना की शुरुआत की गई। सीएम शिवराज सिंह चैहान ने भोपाल स्थित समन्वय भवन में सार्थक ऐप को लांच किया और किल कोरोना अभियान की शुरुआत की। इस कार्यक्रम में भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा, हुजूर विधायक रामेश्वर शर्मा और गोविंदपुरा विधायक कृष्णा गौर भी मौजूद रहे। हालांकि दिलचस्प बात यह है कि प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इस कार्यक्रम से दूरी बनाए रखी। प्रदेश में यह अभियान 15 जुलाई तक चलेगा, इस अभियान के तहत प्रदेश में 11,458 टीमें घर-घर जाकर सर्वे करेंगी। इस दौरान 2.5 से 3 लाख सैंपल टेस्ट किए जाएंगे। सार्थक एप में संदिग्ध मरीजों की एंट्री की जाएगी। इस अभियान में कोराना की जाँच के साथ-साथ मलेरिया, डेंगू और चिकनगुनिया आदि के संदिग्धों की भी जाँच की जाएगी। कोविड-19 के संदिग्धों की जिनकी प्रविष्टि सार्थक ऐप पर की जाती है उन संबंधित क्षेत्रों में मेप्ड एमएमयू द्वारा सैंपलिंग की जाएगी। रोजाना चिन्हित किये गये संदिग्धों की सैंपलिंग के बाद उनकी टेस्टिंग आरटीपीसीआर और टीआरयूएनएटी के माध्यम से भी की जाएगी।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि कोरोना को हम जड़ से मिटाएंगे, घर-घर हमारे लोग पहुंचेंगे। लक्षण आने पर हम सबसे पहले घर में जांच करेंगे। कोरोना के खिलाफ इतने व्यापक पैमाने पर सर्वे देश में कहीं नहीं किया गया होगा। हर घर में स्क्रीनिंग और टेस्टिंग करेंगे। यह अभियान जन सहयोग से ही पूरा हो सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि डॉक्टर्स डे पर मैं उन सभी डॉक्टरों को प्रणाम करता हूँ, जिन्होंने दिन-रात लगातार कोरोना संक्रमण से प्रभावित लोगों की सेवा की है और कर रहे हैं।