केदारनाथ आपदा में मरे लोगों की फिर होगी खोज

2013 की केदारनाथ आपदा में लापता हुए 3 हजार से ज्यादा शवों को खोजने के लिए हाईकोर्ट ने कमेटी का गठन कर दिया है। हाईकोर्ट की खण्डपीठ ने आईजी एसडीआरएफ की अध्यक्षता में कमेटी बना दी है। इस उच्च स्तरीय कमेटी में जीएसआई देहरादून,वाडिया इंस्टीट्यूट, आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया के प्रतिनिधियों को शामिल किया गया है।

आपदा में मारे गए लोगों के नर कंकालों को खोज कर उनका डीएनए टेस्ट किया जाएगा। इसके लिए पुलिस की दस टीमें गठित की गई हैं। जो अलग-अलग ट्रैकिंग रूटों पर नर कंकालों की खोज करेगी। पुलिस अधीक्षक इन सभी टीमों को केदारनाथ धाम से 16 सितम्बर को रवाना करेंगे। खास बात ये है कि इस टीम में स्थानीय लोगों को भी शामिल किया गया है। जो इन ट्रैकिंग रूटों की जानकारी रखते हैं। आपको बता दें कि 16 जून 2013 को केदारनाथ में आई प्रलयकारी आपदा ने सब कुछ तबाह करके रख दिया था।

सरकार की ओर से बताया गया कि 3075 श्रद्धालु अभी भी लापता हैं जबकि 699 शव तथा कंकाल ही मिल पाए हैं। उस आपदा में 4400 लोग मारे गए या लापता हो गए थे। हालांकि गैर सरकारी आंकड़ों के मुताबिक दस हजार से अधिक लोगों की जान गई थी।