‘सेवा ही संगठन‘ कार्यक्रम में बोले पीएम मोदी- हमने राजनीति में सत्ता को सेवा का माध्यम माना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से भाजपा के ‘सेवा ही संगठन’ कार्यक्रम को संबोधित किया। इसमें प्रधानमंत्री ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा के सेवा कार्यक्रमों की इतनी बड़ी व्यापकता, इतनी बड़ी विविधता, इतने बड़े स्केल पर, इतने लंबे समय तक सेवा, मुझे लगता है कि ये मानव इतिहास का सबसे बड़ा सेवा यज्ञ है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हम लोगों ने राजनीति में सत्ता को सेवा का माध्यम माना है। हमने कभी भी सत्ता को अपने लाभ का माध्यम नहीं बनाया। निःस्वार्थ सेवा ही हमारा संकल्प रहा है और यही हमारे संस्कार भी हैं। उन्होंने कहा कि दुनिया की नजरों में आप कोरोना काल में काम कर रहे थे, लेकिन मैं अपनी बात करूं तो आप खुद को कसौटी पर कस रहे थे। आप अपने आदर्शों के बीच खुद को तपा रहे थे।
इस मौके पर भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी के प्रति आपका समर्थन और पार्टी के प्रति आपका लगाव ये सर्वविदित है। उन्होंने कहा, ‘भारत सरकार की बड़ी जिम्मेदारी प्रधानसेवक के रूप में निभाते हुए पार्टी की हर छोटी बात को भी ध्यान रखना, सहयोग करना, समय≤ पर हम सभी का मार्गदर्शन करना ये हम सभी ने देखा है.‘
इस कार्यक्रम में गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और रेल मंत्री पीयूष गोयल ने भी भाजपा मुख्यालय में शिरकत की।