बजट सत्र से पहले बोले PM मोदी- उत्तम मंथन से ही उत्तम अमृत प्राप्त होगा

आज से देश में बजट सत्र की शुरुआत हो रही है। प्रधानमंत्री मोदी ने संसद परिसर से कहा कि ये बजट इस दशक का पहला बजट है और यह भारत के भविष्य के लिए काफी महत्वपूर्ण सत्र है। आजादी के सेनानियों के सपनों को तेज गति से सिद्ध करने का समय आ गया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वैसे शायद भारत के इतिहास में पहली बार हुआ कि 2020 में एक नहीं, वित्त मंत्री को अलग अलग पैकेज के रूप में एक प्रकार से चार-पांच मिनी बजट देने पड़े। यानी 2020 में एक प्रकार मिनी बजट का सिलसिला चलता रहा। इसलिए यह बजट भी उन चार बजटों की श्रृंखला में देखा जाएगा, मुझे पूरा विश्वास है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि अब उत्तम मंथन से उत्तम अमित्र प्राप्त हो यह देश की इच्छाएं हैं। मुझे विश्वास है कि जिस आशा और अपेक्षा के साथ देश के कोटि-कोटि जनों ने हम सबको संसद में भेजा है, हम संसद के इस पवित्र स्थान का भरपूर उपयोग करते हुए लोकतंत्र की सभी मर्यादाओं का पालन करते हुए, जन आकाक्षाओं की पूर्ति के लिए, अपने योगदान से पीछे नहीं हटेंगे। सभी सांसद इस सत्र को और अधिक उत्तम बनाएंगे, यह मेरा पूरा विश्वास है।