RSS प्रमुख मोहन भागवत भोपाल में ले रहे शिवराज के मंत्रियों की बैठक, सिंधिया खेमें के मंत्रियों को रखा गया बैठक से दूर

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत सोमवार को भोपाल पहुंचे। भागवत भोपाल में तीन दिन तक चलने वाली संघ की एक अनौपचारिक बैठक में शामिल होंगे। इस बैठक में सरकार्यवाह भय्याजी जोशी के अलावा सभी सह सरकार्यवाह और शीर्ष प्रचारकों सहित कुल 20 लोगों को बुलाया गया है।

बैठक में आरएसएस प्रमुख समेत तमाम नेता और प्रचारक मौजूद रहेंगे। संघ की शाखाओं के विस्तार समेत राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर मंथन किया जाएगा। कोविड-19 समेत बाकी देशव्यापी समस्याओं पर भी चर्चा की जाएगी। इस बैठक में मुख्य रूप से संघ के संगठनात्मक विषयों को लेकर चर्चा होगी। संघ सूत्रों के अनुसार आत्मनिर्भर भारत व अगले वर्ष होने वाले सरकार्यवाह के चुनाव को लेकर मंथन होगा।

भागवत के सरकार के जिन मंत्रियों को मिलने बुला रहे हैं, उनमें खास बात है कि अभी तक उन्होंने उन्हीं मंत्रियों को बुलाया है जो स्वयंसेवक रहे हैं और आरएसएस के लिए काम करते रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह आज शाम को आरएसएस प्रमुख से मिलने जा सकते हैं। इस बैठक में कोई भी बड़े निर्णय व राजनीतिक प्रस्ताव नहीं पारित किए जाएंगे। संघ सूत्रों के अनुसार, बैठक में कोरोना को लेकर समाज व देश की स्थिति, लॉकडाउन के समय संघ के स्वयंसेवक एवं अनुषांगिक संगठनों द्वारा चलाए गए राहत कार्य, घरों में चल रहे कुटुंब शाखा आदि विषयों पर चर्चा होगी। इस बार संघ शिक्षा वर्ग स्थगित रहने के कारण उसकी चर्चा बैठक में नहीं होगी।

इस बैठक में मुख्य रूप से संघ के संगठनात्मक विषयों को लेकर चर्चा होगी। संघ सूत्रों के अनुसार आत्मनिर्भर भारत व अगले वर्ष होने वाले सरकार्यवाह के चुनाव को लेकर मंथन होगा।