शुरु हुआ सावन का पवित्र महीना

कोरोना वायरस के संक्रमण के बीच शुरु हुआ सावन का पवित्र महीना। आज है सावन का पहला सोमवार।  देवताओं में भगवान शिव की पूजा और इस पूजा के लिए श्रावण मास सबसे शुभ और कल्याणकारी माना गया है। इस बार इस पावन मास की शुरुआत भी शुभ संयोग में यानी भगवान शिव का दिन माने जाने वाले सोमवार 06 जुलाई 2020 से हुई और समाप्ति भी सोमवार 03 अगस्त 2020 को ही होगी।

यह महीना भोलेनाथ को अतिप्रिय है। इस महीने में शिव की आराधना करने वाला समस्त कष्टों से दूर होता है और अंत में मोक्ष प्राप्त करता है। माना जाता है कि सावन सोमवार के दिन व्रत रहने से संतान सुख, धन, निरोगी काया और मनोवांछित जीवन साथी प्राप्त होता है, साथ ही दाम्पत्य जीवन के दोष और अकाल मृत्यु जैसे संकट दूर हो जाते हैं। मध्यप्रदेश के उज्जैन में स्थित महाकाल मंदिर में भी भक्तों की भीड़ उमड़ रही है। हालांकि, इस बार दर्शन के लिए भक्तों को प्री-बुकिंग करवानी पड़ी है। मंदिर में आज महाकाल की भव्य आरती की गई है। इससे पहले, भगवान शिव का भव्य ऋंगार किया गया था। सावन में महामृत्युंजय मंत्र, गायत्री मंत्र, शतरूद्र का पाठ, पुरुष सूक्त का पाठ और पंचाक्षर आदि शिव मंत्रों का जाप करने से भगवान शिव प्रसन्न होते हैं। बता दें कि श्रवण नक्षत्र का पूर्णिमा तिथि से योग होने के कारण इस माह को श्रवण भी कहा जाता है ।

 भगवान शिव की अराधना करने के लिए भक्तों की भीड़ कम संख्या में ही सही लेकिन लगातार मंदिरों में पहुंच रही है। मंदिरों के बाहर सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करवाने के लिए गोले बनाए गए हैं, ताकि श्रद्धालु एक दूसरे से उचित दूरी बनाकर खड़े हों।