गोवा के तट से टकराया चक्रवाती तूफान टाक्टे, अब तक 5 की मौत

चक्रवाती तूफान टाक्टे गोवा तट से टकराया है। वहां पणजी में इसका असर देखा गया। चक्रवाती तूफान के और जोर पकड़ने की आशंका के मद्देनजर गुजरात को हाई अलर्ट पर रखा गया है। रविवार को ही इसके मुंबई से भी गुजरने की आशंका है। कर्नाटक में हुई तेज बारिश की वजह से 4 लोगों की मौत हुई है। राज्‍य में कुल 73 गांव इससे प्रभावित हुए हैं। समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक भारी बारिश व पेड़ गिरने से गोवा में एक व्यक्ति की मौत हुई है। इस प्रकार अब तक साइक्लोन टाक्टे के कारण 5 लोगों की जान गई है।

इस बीच चक्रवात पर तैयारियों को लेकर गृह मंत्री अमित शाह ने आज (रविवार) समीक्षा बैठक की है। जिसमें गुजरात, महाराष्ट्र, दमन -दीव और दादर नगर हवेली राज्योंध्केंद्र शासित प्रदेशों के अधिकारी शामिल हुए। गृह मंत्री ने चक्रवात प्रभावित राज्यों को पावर बैकअप की समुचित व्यवस्था के निर्देश दिए हैं। साथ ही कहा कि चक्रवात आने पर पावर सप्लाई में कोविड मरीजों और अस्पतालों में किसी प्रकार की कमी ना हो चक्रवात प्रभावित राज्यों के डीएम को निर्देश दिए गए कि ऑक्सीजन सप्लाई में कमी ना हो। अमित शाह ने कहा कि चक्रवात के समय लोकल बॉडीज सक्रिय रहें।

पीएमओ ने कहा कि प्रधानमंत्री ने नियंत्रण कक्षों को चैबीसों घंटे कार्यरत रखने का निर्देश दिया। उन्होंने जामनगर से होने वाली ऑक्सीजन की आपूर्ति पर कम से कम प्रभाव पड़ना सुनिश्चित करने पर विशेष ध्यान देने को कहा। उन्होंने समय रहते बचाव व राहत अभियान में स्थानीय लोगों को शामिल करने के बारे में भी बात की।

मौसम विभाग के अनुसार माना जा रहा है कि ये चक्रवाती तूफान तौकते गुजरात के वेरावल और पोरबंदर के बीच मांगरोल के पास तट से टकराएगा। महाराष्ट्र, केरल और गुजरात के तटों पर तीन दिन तक तूफान का असर रहने की संभावना है। मौसम विभाग का अनुमान है कि चक्रवाती तूफान के दौरान 150 से 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं।